Arvind Kejriwal: सीएम की जांच मामले में आया नया मोड़

Arvind Kejriwal: सीएम की जांच मामले में आया नया मोड़

Arvind Kejriwal News : पीडब्ल्यूडी के सेवानिृत्त अधिकारी एके आहूजा के अनुसार शशिकांत के कार्यकाल के दौरान ही कार्य निष्पादित किया गया था। इसलिए ऐसा प्रतीत होता है कि कारण बताओ नोटिस गलती से मुझे दिया गया है और मुझे बलि का बकरा बनाया गया है। वास्तव में इसे शशिकांत को दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि मुझे नोटिस भेजने के मामले में कुछ त्रुटि हुई है।सीएम आवास नवीनीकरण मामले में प्रधान मुख्य अभियंता रहे आहूजा ने लिया विभाग के प्रमुख अभियंता शशिकांत का नाम।

  1. उधर, शशिकांत ने कहा है कि यह मामला कभी उन तक नही आया, जो कहता है वह पेपर दिखाए

Arvind Kejriwal

वी के शुक्ला, नई दिल्ली। मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal के आवास में नवीनीकरण में अनियमितताओं को लेकर चल रही जांच में नया मोड़ आ गया है। इस परियोजना में उस समय शामिल रहे लोक निर्माण विभाग के प्रधान मुख्य अभियंता एके आहूजा ने दिल्ली सरकार को भेजे लिखित जवाब में कहा है कि इस मामले में वह नहीं बल्कि उस समय के विभाग प्रमुख रहे शशिकांत ने आदेश दिए थे। इस मामले में यह पहली बार है कि विभाग प्रमुख रहे किसी अधिकारी का नाम सामने आया है। फिलहाल सरकार का सतर्कता निदेशालय मामले की जांच कर रहा है। उधर शशि कांत ने कहा है कि यह मामला कभी उन तक नही आया।

अगर काेई यह कहता है कि उन्होंने कोई आदेश दिए हैं ताे वह पेपर सामने लाए जाएं। आहूजा के अनुसार शशिकांत के कार्यकाल के दौरान ही कार्य निष्पादित किया गया था। इसलिए ऐसा प्रतीत होता है कि कारण बताओ नोटिस गलती से मुझे दिया गया है और मुझे बलि का बकरा बनाया गया है। वास्तव में इसे शशिकांत को दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि मुझे नोटिस भेजने के मामले में कुछ त्रुटि हुई है।

आहूजा के अनुसार शशिकांत के कार्यकाल के दौरान ही कार्य निष्पादित किया गया था। इसलिए ऐसा प्रतीत होता है कि कारण बताओ नोटिस गलती से मुझे दिया गया है और मुझे बलि का बकरा बनाया गया है। वास्तव में इसे शशिकांत को दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि मुझे नोटिस भेजने के मामले में कुछ त्रुटि हुई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top